26 अक्टूबर, आज का दिन इतिहास में

क्या आप जानते हैं कि आज के दिन 26 अक्टूबर के दिन इतिहास में क्या हुआ था ?
अगर नहीं पता तो मैं आपको बताती हूँ कि आज के ही दिन, 26 अक्टूबर 1947, कश्मीर के महाराजा हरिसिंह ने कश्मीर के भारत में विलय पत्र पर हस्ताक्षर किये थे ।
भारत के विभाजन के बाद भी कई देसी रियासतों ने भारत में विलय नहीं किया था, जैसे कि हैदराबाद, कश्मीर।
जैसा कि आप जानते होंगे कि पहले भारत कई देसी रियासतों और राज्यों में बंटा हुआ था और सब के अपने शासक थे और सभी राज्यों और देसी रियासतों पर अंग्रेज़ो का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से शासन था।

 

भारत के विभाजन के बाद संपूर्ण भारत को एक करने का कार्य सरदार बल्लभ भाई पटेल ने किया था और प्राचीन काल में चन्द्रगुप्त मौर्य ने अखंड भारत बनाने का कार्य किया था।
कश्मीर के पास दो विकल्प थे कि या तो वो पाकिस्तान में विलय हो जाये या फिर भारत में, जिसकी कोशिशे लगातार जारी थी ।
पर कश्मीर में पाकिस्तान की तरफ से और पठानों की तरफ से हमले होने लगे, और इन दंगों में कई लोग मारे गए और इन परिस्तिथियों में सहायता के लिए महाराजा हरी सिंह ने भारत से मदद मांगी और भारत में विलय होना स्वीकार किया पर अपनी कुछ शर्तों के साथ ।
कश्मीर का संविधान, हमारे संविधान में अनुच्छेद 370 में जोड़ा गया और अनुच्छेद 35 (क) हम सब जानते ही है,
और अब ये अस्तित्व में नहीं है जिसके साथ जम्मू कश्मीर और लद्दाख अब केंद्रशासित प्रदेश बन चुके है ।
अपने विचार कमेंट सेक्शन में ज़रूर शेयर करें ।
धन्यवाद॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − two =